पर्यायवाची शब्द/Paryayvachi Shabd (Synonyms Words)

 



कंजूस सूम, अनुदार, कृपण, मक्खीचूस।

कपड़ा चीर, वस्त्र, वसन, अम्बर, पट, चैल, दुकूल

कपाट पट, किवाड़, द्वार, दरवाजा।

कमल सरोज, सरोरुह, जलज, पंकज, नीरज, वारिज, अम्बुज, अम्बोज, अब्ज, सतदल, अरविन्द, कुवलय, अम्भोरूह।

कर्ण अंगराज, सूर्यसुत, अर्कनन्दन, राधेय, सूतपुत्र, रविसुत, आदित्यनन्दन।

कलीमुकुल, जालक, ताम्रपल्लव, कलिका, कुडमल, कारक नवपल्लव, अँखुवा, कोंपल।

कल्पवृक्ष कल्पतरु, कल्पशाल, कल्पद्रुम, कल्पपादप, कल्पविटप।

कन्या कुमारिका, बालिका, किशोरी, बाला।

कठिन दुर्बोध, जटिल, दुरूह।

कंगाल निर्धन, गरीब, अकिंचन, दरिद्र।

कंचन सोना, स्वर्ण, सुवर्ण, सोना, हेम।

कृतार्थ उपकृत, आभारी, धन्य, अहसानमंद।

कमजोर दुर्बल, निर्बल, अशक्त, क्षीण।

कामना अभिलाषा, आकांक्षा, मनोरथ, चाह।

कुटिल छली, कपटी, धोखेबाज, चालबाज

कृपा अनुकम्पा, अनुग्रह, दया, मेहरबानी।

कामुकता व्यभिचारिता, भोगासक्ति, विषयासक्ति, इंद्रियलोलुपता।

काक काग, काण, वायस, पिशुन, करठ, कौआ।

कुत्ता कुक्कर, श्वान, शुनक, कूकुर।

कबूतर कपोत, रक्तलोचन, हारीत, पारावत।

कृत्रिम अवास्तविक, नकली, झूठा, दिखावटी, बनावटी।

कल्याण मंगल, योगक्षेम, शुभ, हित, भलाई, उपकार।

कठोर कड़ा, कर्कश, पुरुष, निष्ठुर।

कल – सुन्दर , अगला दिन , मशीन , आराम , श्रेष्ठ। कपड़ा – चीर , ,पट , वसन , अम्बर , वस्त्र।

कलह विवाद, झगड़ा, बखेड़ा।

कूल किनारा, तट, तीर।

कृषक किसान, काश्तकार, हलधर, जोतकार, खेतिहर।

क्लिष्ट दुरूह, संकुल, कठिन, दुःसाध्य।

कायर बुजदिल, भीरू, डरपोक, कातर।

कौशल कला, हुनर, फन, योग्यता, कुशलता।

कर्म कार्य, कृत्य, क्रिया, काम, काज।

कलिका – कली, मुकुल, पंखुड़ी, कोरक।

कड़वा – कटु, तीखा, तीक्ष्ण, तेज।

कस्तुरी – मृगमद, मृगनाभि, मदलता।

कंदरा – गुहा, गुफा, खोह, दरी।

कथन – विचार, वक्तव्य, मत, बयान।

कटाक्ष – आक्षेप, व्यंग्य, ताना, छींटाकशी।

कुरूप – भद्दा, बेडौल, बदसूरत, असुन्दर।

कलंक – दोष, दाग, धब्बा, लांछन, कलुषता।

केवट – मांझी, नाविक, मल्लाह, धीवर।

कोमल – मृदुल, सुकुमार, नाजुक, नरम, मुलायम।

किरण – रश्मि, केतु, अंशु, मरीचि, अंश, कर, मयूख, पुंज।

कुशल – दक्ष, प्रवीण, निपुण, चतुर।

कसक – पीड़ा, दर्द, टीस, दुःख

कोयल – कोकिल, श्यामा, पिक, मदनशलाका।

काल्पनिक – अयथार्थ, मनगढंत, कल्पित।

कायरता – भीरुता, अपौरुष, पामरता, साहसहीनता।

कंटक – काँटा, शूल, खार।

कामदेव – मनोज, कन्दर्प, आत्मभू, अनंग, अतनु, काम, मकरकेतु, पुष्पचाप, स्मर, मन्मथ।

कार्तिकेय – कुमार, पार्वतीनन्दन, शरभव, स्कन्ध, षडानन, गुह, मयूरवाहन, शिवसुत, षड्वदन।

किला – दुर्ग, कोट, गढ़, शिविर।

किंचित –(i) कतिपय, कुछ एक, कई एक (ii) कुछ, अल्प, जरा।

किन्तु – लेकिन, परन्तु, मगर, क्योंकि, पर।

किताब – पुस्तक, ग्रंथ, पोथी।

किनारा –(i) तट, मुहाना, तीर, पुलिन, कूल। (ii) अंचल, छोर, सिरा, पर्यन्त।

कीमत – मूल्य, दाम, लागत।

कुबेर – राजराज, किन्नरेश, धनाधिप, धनेश, यक्षराज, धनद।

कुमुदनी – नलिनी, कैरव, कुमुद, इन्दुकमल, चन्द्रप्रिया।

कृष्ण – नन्दनन्दन, मधुसूदन, जनार्दन, माधव, मुरारि, कन्हैया, द्वारकाधीश, गोपाल, केशव, नन्दकुमार, नन्दकिशोर, बिहारी।

कृतज्ञ – आभारी, उपकृत, अनुगृहीत, ऋणी, कृतार्थ।

केला – रम्भा, कदली, वारण, अशुमत्फला, भानुफल, काष्ठीला।

क्रोध – गुस्सा, अमर्ष, रोष, कोप, आक्रोश, ताव।

करुणा – दया, तरस, रहम, आत्मीयभावा।

कहानी – दास्तान, गाथा, किस्सा, आख्यायिका।

कायर – डरपोक, बुजदिल, भीरु।

 



खग – पक्षी, चिड़िया, पखेरू, द्विज, पंछी, विहंग, शकुनि।

खंजन – नीलकण्ठ, सारंग, कलकण्ठ।

खबर – जानकारी, सूचना, समाचार, सन्देश।

खल – शठ, दुष्ट, धूर्त, दुर्जन, कुटिल, नालायक, अधम।

खुला – स्पष्ट, प्रत्यक्ष, जाहिर।

खुशी – उल्लास, आनन्द, हर्ष, प्रसन्नता।

खूबसूरत – सुन्दर, सुरम्य, मनोज्ञ, रूपवान।

खोज – अन्वेषण, आविष्कार, शोध, अनुसन्धान।

खून – रुधिर, लहू, रक्त, शोणित।

खिड़की – जंगला, झरोखा, गवाक्ष, वातायन, अन्तद्वार, झज्झर |

खम्भा – खम्भ, स्तूप, स्तम्भ।

खतरा – अंदेशा, भय, डर, आशंका।

खत – चिट्ठी, पत्र, पत्री, पाती।

खरा – शुद्ध, निर्मल, स्वच्छ, साफ।

खामोश – नीरव, शान्त, चुप, मौन।

खोटा – अशुद्ध, झूठा, नकली, कृत्रिम।

खराबी – दोष, बुराई, अवगुण, विकार।

खीझ – झुंझलाहट, झल्लाहट, खीझना, चिढ़ना।

 



गरुड खगेश्वर, सुपर्ण, वैतनेय, नागान्तक।

गर्व – घमण्ड, दर्प, अकड़, दम्भ, अभिमान।

गौरव – मान, सम्मान, महत्त्व, बड़प्पन।

गम्भीर – गहरा, अथाह, अतल।

गीदड़ – श्रृंगाल, सियार, जम्बुक।

गुप्त – निभृत, अप्रकट, गूढ़, अज्ञात, परोक्ष।

गति – चाल, रफ्तार।

गति – हाल, दशा, अवस्था, स्थिति।

गुस्सा – अमर्ष, क्रोध, रोष, क्षोभ, कोप।

गंगा – भागीरथी, देवसरिता, मंदाकिनी, विष्णुपदी, त्रिपथगा, देवापगा, सुरसरि, पापछालिका।

गणेश – लम्बोदर, मूषकवाहन, भवानीनन्दन, विनायक, गजानन, मोदकप्रिय, जगवन्द्य, हेरम्ब।

गज – हस्ती, सिंधुर, मातंग, कुम्भी, नाग, हाथी, वितुण्ड, कुंजर, करी, द्विप।

गधा गदहा, खर, धूसर, गर्दभ, चक्रीवाहन, रासभ, लम्बकर्ण, बैशाखनन्दन।

गाय – धेनु, सुरभि, माता, कल्याणी, पयस्विनी, गौ।

गलना – द्रवीभूत होना, द्रवित होना, पिघलना, नष्ट होना।

गहन – अगाह, अथाह, अगाध, गहरा।

गुलाब – सुमना, शतपत्र, स्थलकमल, पाटल, वृन्तपुष्प।

गुंडा – लोफर, शरारती, नंगा, बदमाश, लफंगा, उदंड।

गुनाह – गलती, अधर्म, पाप, अपराध, खता, त्रुटि, कुकर्म।

गोदाम – मालखाना, भण्डार, कोठा, गोडाउन।

Leave a Comment

error: Content is protected !!